Sunday, July 25, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयदुखद खबर: कोरोना वायरस को चीन पर 'अल्लाह का कहर' बताने वाले ईरानी इमाम...

दुखद खबर: कोरोना वायरस को चीन पर ‘अल्लाह का कहर’ बताने वाले ईरानी इमाम खुद हुए कोरोना वायरस के शिकार

"चीन में एक अरब से ज्यादा लोग हैं। वहाँ की सरकार ने एक मिलियन से ज्यादा मुस्लिमों कैद में रखा हुआ है। वहाँ के पत्रकार मुस्लिम महिलाओं के नकाब का मज़ाक उड़ा रहे हैं। मुस्लिमों को जबरन पोर्क खिलाया जा रहा है और शराब पिलाई जा रही है। आज अल्लाह ने उनके तमाम लोगों को निकाब (मास्क) पहनने पर मज़बूर कर दिया है।"

कोरोना वायरस का संक्रमण धीरे-धीरे कर पूरे विश्व को अपनी चपेट में लेते जा रहा है। चीन और इटली के बाद ईरान में भी इससे प्रभावित और मरने वालों कि संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। ईरान में कोरोना वायरस पीड़ितो की संख्या 6 हज़ार को पार कर चुकी है। लेकिन विडंबना देखिए कि इन पीड़ितों में से एक ईरानी ईमाम वो भी है, जिसने हाल ही में कोरोना वायरस को चीन पर ‘अल्लाह का अजाब’ (अल्लाह का कहर) बताया बताया था।

इराक मूल के ईरान में रहने वाले इस्लामिक नेता अयातुल्ला सैयद हादी-अल-मुदारिसी ने 28 फरवरी को MEMRI-TV पर दिए एक वीडियो संदेश में चीन पर निशाना साधते हुए कहा था कि- नि:संदेह अल्लाह ने चीन को ये सज़ा दी है, चीन के उन कारनामों के लिए, जिसमें वो मुस्लिम औऱ इस्लाम के साथ दुर्व्यवहार कर रहे हैं। उन्होंने कहा था कि जाहिर सी बात है कि ये कोरोना वायरस चीन पर अल्लाह का अज़ाब है।

देखिए ईरानी इमाम द्वारा जारी किया गया वीडियो-

इस वीडियों में अयातुल्ला सैयद हादी-अल-मुदारिसी कह रहे हैं, “चीन में एक अरब से ज्यादा लोग हैं। वहाँ की सरकार ने एक मिलियन से ज्यादा मुस्लिमों कैद में रखा हुआ है। वहाँ के पत्रकार मुस्लिम महिलाओं के नकाब का मज़ाक उड़ा रहे हैं। मुस्लिमों को जबरन पोर्क खिलाया जा रहा है और शराब पिलाई जा रही है। आज अल्लाह ने उनके तमाम लोगों को निकाब (मास्क) पहनने पर मज़बूर कर दिया है। इसका सीधा मतलब है कि अल्लाह उनको इसकी सज़ा दे रहा है।”

फिलहाल दुखद खबर यह है कि अयातुल्ला सैयद हादी-अल-मुदारिसी आज खुद कोरोना वायरस के शिकार बन गए हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार, उनको अलग-थलग करके रखा गया है। जहाँ उनकी हालत फिलहाल स्थिर बनी हुई है।

ज्ञात हो कि चीन के वुहान से संक्रमित हुआ कोरोना वायरस कोई अल्लाह का कहर नहीं बल्कि एक वायरस द्वारा हुआ संक्रमण है। इसके संक्रमण के दायरे में हॉलीवुड की मशहूर हस्ती टॉम हैंक्स से लेकर अन्य कई बड़ी हस्तियाँ भी हो चुकी हैं। हर देश की सरकार इससे बचाव के लिए लगातार सूचना जारी कर रही हैं और अफवाहों से बचने का भी सन्देश दे रही हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राजस्थान में भगवा ध्वज फाड़ने वाले कॉन्ग्रेस MLA को लोगों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा: वायरल वीडियो का FactChek

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें दिख रहा है कि लाठी-डंडा लिए भीड़ एक शख्स को दौड़ा-दौड़ाकर पीट रही है।

दैनिक भास्कर के ₹2,200 करोड़ के फर्जी लेनदेन की जाँच कर रहा है IT विभाग: 700 करोड़ की आय पर टैक्स चोरी का खुलासा

मीडिया समूह की तलाशी में छह वर्षों में ₹700 करोड़ की आय पर अवैतनिक कर, शेयर बाजार के नियमों का उल्लंघन और लिस्टेड कंपनियों से लाभ की हेराफेरी के आयकर विभाग को सबूत मिले हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,066FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe