Monday, July 15, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाजम्मू-कश्मीर में 4 दिनों के अंदर चौथा आतंकी हमला... डोडा में सुरक्षा बलों पर...

जम्मू-कश्मीर में 4 दिनों के अंदर चौथा आतंकी हमला… डोडा में सुरक्षा बलों पर फिर चली गोलियाँ: 1 जवान घायल, पूरे इलाके की घेराबंदी

आतंकी हमलों के मद्देनजर जम्मू के अधिकतर हिस्सों में सेना, पैरामिलिट्री और जम्मू कश्मीर पुलिस ने सामूहिक रूप से सघन तलाशी अभियान छेड़ रखा है। इसी अभियान के तहत सुरक्षा बलों की एक टुकड़ी डोडा जिले के कोटा टॉप गंडोह इलाके में तलाशी ले रही थी।

जम्मू-कश्मीर में पिछले 100 घंटों के अंदर चौथा आतंकी हमला हुआ है। यह हमला एक बार फिर से डोडा जिले में हुआ है। इस दौरान आतंकियों की सुरक्षा बलों से मुठभेड़ हुई है। हमले में जम्मू कश्मीर स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (SOG) का एक जवान घायल हो गया है जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। इलाके को चारों तरफ से घेर लिया गया है। बुधवार (12 जून 2024) की रात 8:20 से शुरू हुई मुठभेड़ अभी तक जारी है। इलाके में अतिरिक्त सुरक्षा बल भेजे गए हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लगातार हो रहे आतंकी हमलों के मद्देनजर जम्मू के अधिकतर हिस्सों में सेना, पैरामिलिट्री और जम्मू कश्मीर पुलिस ने सामूहिक रूप से सघन तलाशी अभियान छेड़ रखा है। इसी अभियान के तहत सुरक्षा बलों की एक टुकड़ी डोडा जिले के कोटा टॉप गंडोह इलाके में तलाशी ले रही थी। इसी दौरान घात लगा कर छिपे आतंकियों ने अचानक ही गोलियाँ चलानी शुरू कर दी। गोलीबारी में जम्मू कश्मीर स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (SOG) का एक जवान घायल हो गया है।

घायल कांस्टेबल का नाम फरीद अहमद बताया जा रहा है। उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। फरीद की हालात फ़िलहाल स्थिर बताई जा रही है। हमला होते ही बाकी जवानों ने पोजीशन ले ली। उन्होंने भी जवाबी फायरिंग की। इलाके को चारों तरफ से घेर लिया गया है। दोनों तरफ से गोलीबारी अभी तक जारी है। छिपे हुए आतंकियों की सटीक संख्या का अभी तक सही अनुमान नहीं लगाया जा सका है। इलाके में अतिरिक्त सुरक्षा बल भेजे गए हैं। विस्तृत विवरण की प्रतीक्षा है।

बताते चलें कि जम्मू क्षेत्र में यह 100 घंटों के अंदर ही चौथा आतंकी हमला है। इस से पहले 9 जून को रियासी इलाके में मंदिर दर्शन करने जा रहे श्रद्धालुओं की बस पर बरसाई गई गोलियों की वजह से 9 लोगों की मौत हो गई थी। इसके बाद 11 जून को कठुआ में आतंकी हमला हुआ था। तब हीरानगर के सैदा सुखल गाँव में पानी माँगने के बहाने आतंकियों ने गोलीबारी की थी। इस दौरान 1 नागरिक घायल हो गया था। बाद में हुई मुठभेड़ में 2 आतंकियों को ढेर कर दिया गया था। मुठभेड़ के दौरान CRPF का एक जवान वीरगति को प्राप्त हुआ था।

आतंकी हमलों का सिलसिला यहीं नहीं थमा। 11 जून को ही आतंकियों ने जम्मू के पठानकोट-भद्रवाह मार्ग पर सुरक्षा बलों की एक चेकपोस्ट पर हमला किया था। इस दौरान राष्ट्रीय रायफल्स के 5 सैनिक व एक स्पेशल पुलिस अफसर घायल हो गया था। इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी जैश ए मोहम्मद की शाखा कश्मीर टाइगर्स ने ली थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -